रिपोर्ट @मिर्जा अफसार बेग 

दिनांक 17.01.23 को सूचनाकर्ता रामायण प्रसाद मिश्रा पिता श्री रामेश्वर प्रसाद मिश्रा उम्र 44 वर्ष निवासी ग्राम सिन्दुरी द्वारा थाना कोतवाली में सूचना दी गई कि आज दिनांक 17.01.2023 को मै अपने घर से शहडोल जा रहा था कि सुंदरी ददरी टोला जंगल के पास करीबन 10:00 बजे पहुंचा तो मुझे हरी चौधरी बताया कि रोड के किनारे झाड़ी में एक महिला मृत अवस्था में पड़ी है, तब मै भी हरी चौधरी के साथ जाकर देखा तो एक महिला सांवले रंग की उम्र करीब 38 वर्ष काले रंग का कुर्ता सलवार बदन में पहने, पेट का अवस्था में मृत हालत में पड़ी थी सूचना पर से थाना कोतवाली में मर्ग कायम की। जो मर्ग जांच के दौरान मृतिका की पहचान सरिता सोनवानी पति पिन्टु बैरागी उम्र 38 वर्ष निवासी बिजली आफिस के सामने शहडोल के रूप में हुई। बाद मौके पर मृतिका के मर्ग जांच शव पंचनामा की कार्यवाही की गई बाद मृतिका का पीएम मेडिकल कॉलेज शहडोल से कराया गया। मृतिका के पीएमकर्ता डॉक्टर द्वारा पीएम रिपोर्ट में मृतिका सरिता सोनवानी की मृत्यु सिर मे आई चोटो के कारण होना लेख किया गया है। जिसकी प्रकृति होमीसाइडल है, जो मर्ग जांच से किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा मृतिका सरिता सोनवानी के सिर में चोट पहुंचा कर हत्या कर देना एवं शव को झाडियों में छिपा देना पाए जाने से अज्ञात व्यक्ति के विरूद्ध धारा 302, 201 ताहि के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया। दौरान विवेचना प्रकरण में मृतिका के परिजनों के कथन लेखबद्ध किए गए। कथनों के अनुसार मृतिका का आखिरी बार अपनी मां को बताकर लक्ष्मण गुप्ता साथ जाना पाया गया। उक्त तथ्य की पुष्टि एवं जांच हेतु रवाना होकर लक्ष्मण गुप्ता की पता तलाश कर पूछताछ की जिसके द्वारा सन्देहास्पद जवाब मिलने से सन्देही से हिकमत अमली के साथ पूछताछ करने पर लक्ष्मण गुप्ता ने अपने दोस्त मुन्ना सिंह के साथ मिलकर मृतिका सरिता सोनवानी को शराब पिलाने के बहाने मोटर सायकल से सिन्दुरी के जंगल ले जाना एवं अपने दोस्त मुन्ना के साथ सरिता के साथ गलत करने का प्रयास करना जिस पर सरिता द्वारा पुलिस को बता देने की धमकी देने पर सरिता की हत्या कर देना बताया, बाद छिपाने की नियत से मृतिका के शव को झाडियों में फेंक देना बताया। जो प्रकरण के दोनो आरोपी 01. लक्ष्मण प्रसाद गुप्ता पिता बद्री प्रसाद गुप्ता उम्र 42 वर्ष निवासी बिजली आफिस के पास शहडोल एवं 02. मुन्ना सिंह पिता सिराजी सिंह उम्र 45 वर्ष दुर्गा मन्दिर के पीछे थाना कोतवाली शहडोल को पुलिस अभिरक्षा में लिया जा चुका है।

सम्पूर्ण कार्यवाही में उपुअ० मुख्या० श्री राघवेन्द्र द्विवेदी के नेतृत्व में टूआई सी थाना प्रभारी उप निरीक्षक सुभाष दुबे, उप निरी0 वैष्णवी पाण्डेय, सउनि० कामता पयासी, रामराज पाण्डेय, (सउनि० एम) अमित दीक्षित, प्रआर0 महेन्द्रपाल शुक्ला, लवकेश शुक्ला, ठाकुरदास, सुनील शर्मा, आर० उमेश तिवारी, रमेश पाटले, हृदेश एवं अन्य स्टाफ की सराहनीय भूमिका रही।