रिपोर्ट @मिर्जा अफसार बेग
शहडोल। कभी एशिया का दूसरा बड़ा कागज कारखाना रहा ओरियंट पेपर मिल में प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। सीएफबीसी बॉयलर चिमनी में काम कर रहा था ठेका मजदूर लगभग 200 फीट ऊंचे चिमनी से गिरने पर ठेका मजदूर की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। हादसे के बाद उसे आनन फानन में मेडिकल अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस घटना को ओपीएम प्रबंधन छिपाने का प्रयास करता रहा। यह पहला मामला नही है बल्कि 2 माह के अंदर ये पाँचवी मौत है अमलाई थाना क्षेत्र में स्थित कभी एशिया के दूसरे स्थान पर रहने वाले ओरियंट पेपर मिल में ठेका पर कार्य कर रहे यूपी के हफसा ठेकेदार के द्वारा सुरक्षा की अनदेखी कर मिल की चिमनी की तोड़ाई कराया जा रहा था। तोड़ाई कर रहे यूपी के ठेका मजदूर बौऊर का लगभग 200 फीट ऊपर से नीचे गिरने पर तड़प तड़प कर मौके पर ही मौत हो गई।
इस दौरान मिल में अफरा तफरी मच गई। इस घटना के बाद ओपीएम प्रबंधन द्वारा मामले को छिपाने का प्रयास करते हुए मिल के पिछले हिस्से नार्थ गेट से मजदूर का क्षत विक्षत शव लेकर मेडिकल अस्पताल शहडोल पहुंचे। जहां डाक्टरो ने परीक्षण के बाद मजदूर को मृत घोषित कर दिया। यह घटना प्रबंधन की लापरवाही के चलते होना बताया जा रहा है। हमेशा से ही मिल प्रबंधन अपने कार्यरत मजदूरों की मौत का कारण बनता रहा है और मौत के मामले को दबाने में कोई कसर भी नहीं छोड़ता अब देखना यह होगा कि आये दिन होने वाली घटनाओं पर प्रशासन मिल प्रबंधन पर क्या कार्यवाही करता है या यूँ ही मामले को अनदेखा कर आगे भी मौत का सिलसिला जारी रहेगा।