वाराणसी: शासन-प्रशासन के निर्देश के बावजूद परिषदीय विद्यालय के तमाम शिक्षक बगैर किसी सूचना के गायब हो जा रहे हैं। इसका असर बच्चों के पठन-पाठन पर पढ़ रहा है। इसे देखते हुए बीएसए राकेश सिंह ने शनिवार को चोलापुर ब्लाक के चार विद्यालयों का निरीक्षण किया। इस दौरान हेड मास्टर सहित 16 शिक्षक विद्यालय से गायब मिले। उन्होंने इन विद्यालयों की उपस्थिति पंजिका जब्त कर दिया और सभी ऐसे सभी सहायक अध्यापकों, शिक्षामित्र व अनुदेशक का एक दिन वेतन व मानदेय अगले आदेश तक के लिए रोक दिया है। साथ उन्होंने समय से विद्यालय न आने वाले शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी भी दी है।


निरीक्षण के दौरान कंपोजिट विद्यालय (भदवां , सुल्तानीपुर) के सहायक अध्यापक राजेंद्र प्रसाद, नरोत्तम सिंह, विरेंद्र प्रसाद, असगर अली, चेतनारायण, राजेश कुमार तथा अनुदेशक मनोज कुमार 29 व 30 अक्टूबर को गैरहाजिर मिले। इसी प्रकार प्राथमिक विद्यालय (रसड़ा-चोलापुर)में सहायक अध्यापक रेखा मौर्य व प्रशांत यादव उपस्थित मिले थे। चार अध्यापक गायब रहे। इस क्रम में प्राथमिक विद्यालय (भिदुर) में सहायक अध्यापक विनोद कुमार, विनोद राम व शिक्षामित्र पूनम सिंह अनुपस्थित मिली। जबकि प्राथमिक विद्यालय (कोइलो) की हेड मास्टर पूनम सिंह, सहायक अध्यापक संदीप कुमार बगैर किसी सूचना के गायब मिले। बीएसए ने सभी शिक्षकों का एक दिन का वेतन मानदेय अग्रिम आदेश तक के लिए रोक दिया है।


from UpdateMarts| PRIMARY KA MASTER | SHIKSHAMITRA | Basic Shiksha News | UPTET https://ift.tt/3BwY7k4
via IFTTT