प्रयागराज। प्रदेश के विभिन्न विभागों में पांच लाख से अधिक रिक्त पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन जारी करने, भर्तियों को चुनाव से पहले पूरा करने, हर युवा को गरिमापूर्ण रोजगार गारंटी जैसे मुद्दों पर युवा मंच के बैनर तले प्रतियोगी छात्रों ने रविवार को बालसन चौराहे पर प्रदर्शन किया। घंटों चले प्रदर्शन के बाद जिला प्रशासन के माध्यम से राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन प्रेषित किया।


युवाओं ने कहा कि प्रदेश में पांच लाख से अधिक और देश में तकरीबन 24 लाख पद रिक्त पड़े हैं, लेकिन सरकारें इन्हें भरने के बजाय अपनी कथित उपलब्धियों के प्रचार में लगी हैं। जमीनी हकीकत एकदम अलग है। हाल ही में जारी यूनेस्को की रिपोर्ट में उत्तर प्रदेश में बेसिक शिक्षा में शिक्षकों के 3.3 लाख पद रिक्त होने का दावा किया गया है, जबकि प्रदेश सरकार स्कूलों में शिक्षकों के सरप्लस होने का राग अलाप रही है। यही हाल माध्यमिक शिक्षा का भी है। छात्रों ने कहा कि सरकारी आंकड़ों के अनुसार टीजीटी-पीजीटी के 27 हजार एवं एलटी ग्रेड के आठ हजार पदों पर भर्ती की प्रक्रिया तेजी से चल रही है, लेकिन विज्ञापन का अतापता नहीं है। निर्णय लिया गया कि भर्तियों पर शीघ्र निर्णय नहीं लिया गया तो 16 नवंबर से बालसन चौराहे पर बेमियादी आंदोलन शुरू होगा। प्रदर्शन में युवा मंच के अध्यक्ष अनिल सिंह समेत ईशान, अनंत प्रकाश सिंह, करन सिंह परिहार, अनंत प्रताप सिंह, सुरेंद्र पांडेय, सुधाकर यादव, प्रवीण मौर्य, अश्विनी यादव, शैलेश मौर्य आदि मौजूद रहे।


from UpdateMarts| PRIMARY KA MASTER | SHIKSHAMITRA | Basic Shiksha News | UPTET https://ift.tt/3GCRdh4
via IFTTT